How To Learn COMPONENTS OF COMPUTER

               Components of computer           
                          कंप्यूटर के घटक

 कोई कंप्यूटर चाहे छोटा हो या बड़ा हो या पुराना उस की मूल संरचना सदैव एक ही तरह की होती है प्रत्येक कंप्यूटर केेे चार मुख्य भाग होते हैं जो निम्नलिखित हैं

         (1) इनपुट युक्तियां (Input Devices)

मनुष्य द्वारा दिए गए डाटा तथा निर्देशों को कंप्यूटर में प्रविष्ट कराने के लिए जिन नियुक्तियों का प्रयोग किया जाता है उन्हें इनपुट युग क्या कहते हैं कंप्यूटर सिस्टम में इनपुट यूनिट के निम्नलिखित मुख्य कार्य होते हैं
(1) यूजर द्वारा दिए गए डाटा को कंप्यूटर सिस्टम को उपलब्ध कराना

(2) यूजर द्वारा दिए गए निर्देशों को प्राप्त करना
(3) यूजर द्वारा दिए गए कमांडो को प्राप्त करना
मुख्य इनपुट नियुक्तियां कीबोर्ड माउस जायसिटक scanner लाइट पेन वॉइस रिकॉग्निशन system optical मार्क रीडर मैग्नेटिक इक कैरेक्टर रिकॉग्निशन वेब कैमरा वीडियो कैमरा आदि है

        (2) आउटपुट युक्तियां (Output Device) 
इनपुट युक्तियों द्वारा प्राप्त डाटा तथा निर्दोषों को परिणाम के रूप में प्रदर्शित करने के लिए जिन नियुक्तियों का उपयोग किया जाता है उन्हें आउटपुट युक्तियां कहते हैं कंप्यूटर सिस्टम में आउटपुट यूनिटी निम्नलिखित मुख्य कार्य होते हैं

(1) कंप्यूटर सिस्टम द्वारा दिए गए परिणामों को यूजर को दिखाना होता है
(2) कंप्यूटर ऑपरेटर कोर्स संकेतों की जानकारी देना होता है
(3) कंप्यूटर द्वारा दिए गए परिणामों को सेकेंडरी स्टोरेज डिवाइसों में स्टोर करना होता है
(4) किसी भी प्रकार की सूचना और संदेशों को तुरंत ही दिखाना होता है
(4) मॉनिटर प्रिंटर स्पीकर आउटपुट योग्य होती है

          (3)  Central processing unit
                   सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट 
Computer Gyan
Computer Gyan

कंप्यूटर में किए जाने वाले सभी कार्य सीपीयू के द्वारा ही किए जाते हैं इनपुट आउटपुट के उपकरण तो केवल कंप्यूटर से हमारा संबंध जोड़ने का कार्य करते हैं सीपीयू को कंप्यूटर का मस्तिष्क द ब्रेन ऑफ कंप्यूटर का जाता है प्रोग्राम और डाटा इसके नियंत्रण में मेमोरी में सब्जी हित होते हैं इसका मुख्य कार्य प्रोग्रामो को क्रियान्वित करना है

इसके अतिरिक्त सीपीयू कंप्यूटर के सभी भागो जैसे मेमोरी एवं आउटपुट डिवाइसेज के कार्यों को भी नियंत्रित करता है 
सेन्ट्रल प्रोसेसिंग यूनिट 3 महत्वपूर्ण भागों से मिलकर बनती है

(1) कंट्रोल यूनिट (Control unit -CU)
(2) अर्थमैटिक लॉजिक यूनिट (Arithmetic Logic unit -ALU)
(3) प्राइमरी मेमोरी यूनिट (Primary memory unit )
       
          4 (Storage/External Memory)
                        स्टोरेज/ एक्सटर्नल                      


               इसमें दो प्रकार की मेमोरी होती हैं 
Secondary Memory

1 प्राइमरी मेमोरी (Primary memory unit)
अंतरिक्ष इंटरनल या मुख्य Main मेमोरी भी कहा जाता है क्योंकि यह कंप्यूटर की सीपीयू का ही भाग होता हैं इसमें लाखों की संख्या में बाइटे (Bytes) होती है प्रत्येक बाइट 8 लगातार बिटो (Bits) की एक श्रृंखला होती है बीट सूचना की सबसे छोटी ईकाई  होती है

किसी बिट की दो स्थितियां हो सकती हैं जिन्हें हम ऑन तथा ऑफ कहते हैं सुविधा के लिए हम इन स्थितियों को क्रमशः 1 तथा 0 से व्यक्त करते हैं प्राइमरी मेमोरी के भी दो भाग होते है

(A) .       Random Access Memory -Ram

(B).        Read only memory -Rom
सीपीयू में इन दोनों के अतिरिक्त एक अन्य मेमोरी भी होती है जिसे कैशे मेमोरी का जाता है

2 सेकेंडरी मेमोरी (secondary memory)
इस प्रकार की मेमोरी सीपीयू से बाहर होती है इसलिए इसे एक्सटर्नल या सेकेंडरी मेमोरी भी कहा जाता है कंप्यूटर की मुख्य मेमोरी बहुत महंगी होने तथा बिजली बंद कर देने पर इसमें रखी अधिकतर सूचनाएं नष्ट हो जाने के कारण ना तो हम उसे इच्छा अनुसार बढ़ा सकते हैं और ना हम उस में कोई सूचना अस्थाई रूप से स्टोर कर सकते हैं



Previous
Next Post »

Procedure for issue of Accounting Standard in india

      भारत में लेखांकन मानक जारी करने की प्रक्रिया Procedure for issue of accounting standard in India  देश-विदेश में लेखाकन क...