What is final account and how it is prepared?

Final Accounts किसी लेखा अवधि से संबंधित समस्त  व्यवहारों का लेखा करके तलपट (Trial balance)
द्वारा Accounting कार्य की शुद्धता सुनिश्चित करने के पश्चात व्यापारी यह ज्ञात करना चाहता है कि उक्त account
अवधि में उसने कितना लाभ अर्जित किया या हानि उठाई है तथा उसकी वित्तीय स्थिति (financial position) क्या है अर्थात व्यापार में सम्पत्तियो तथा दायित्वों की क्या स्थिति है यह ज्ञात करने हेतु जो खाते तैयार किये जातें हैं वे अन्तिम खाते कहलाते हैं वास्तव में अन्तिम खाते Accounting प्रक्रिया के अन्तिम उत्पाद  यानी (Final prodect) हैं  अन्तिम खाते या वित्तीय विवरण (financial statement) से हमारा आशय उस विवलण से होता है जो लेखा अवधि की समाप्ति पर व्यवसाय की वित्तीय स्थिति एवं व्यावसायिक क्रियाओं के परिणाम प्रकट करता है  अन्तिम खाते दो भागों में विभाजित किये जातें हैं
                                     
https://www.vikramsaroj.com/2019/03/what-is-final-account-and-how-it-is.html
1.आय विवरण यानी (Income statement)  जिसे व्यापारिक एवं लाभ हानी खाता यानी (Trading and profit and loss account )  कहते हैं लेखा अवधि का शुद्ध लाभ यानी (Net profit) अथवा शुद्ध हानि (Net loss) को प्रदर्शित करता है


2.स्थिति विवरण  चिट्ठा (balance sheet)  लेखा वर्ष के अन्तिम दिन व्यवसाय की आर्थिक स्थिति को प्राप्त करता है  उपरोक्त विवरण प्रत्येक लेखा अवधि (Accounting period) के अन्त में बनाए जाते हैं और इनके बनाने पर उस अवधि की लेखा पुस्तकें बंद हो जाती हैं ये दोनों विवरण मिलकर अंतिम खाते (Final Accounts) कहलाते हैं यह लेखांकन प्रकिया का अंतिम चरण भी है

उद्देश्य: वित्तीय विवरणों (Last Accounts) का मुख्य उद्देश्य संस्था की स्थिति निष्पादन (Performance) तथा रोकड़ प्रभाह के विषय में सूचना देना है जो विपिन उपयोगकर्ताओं के लिए आर्थिक निर्णय लेने में उपयोगी होती है संक्षेप में इन विवरणों के विभिन्न उद्देश्य निम्नलिखित हैं
                               
https://www.vikramsaroj.com/2019/03/what-is-final-account-and-how-it-is.html

1.वित्तीय परिणाम ज्ञात करना  किसी लेखा अवधि में जो व्यावसायिक क्रियाएं की गई है उनके वित्तिय परिणाम अर्थात लाभ हानि की गणना करना अंतिम खातों का प्राथमिक उद्देश्य होता है जिसकी पूर्ति हेतु व्यापार एवं लाभ हानि खाता
(Trading and profit and loss Account) तैयार किये जातें हैं व्यापार खाता (Trading Account) सकल लाभ या हानि (Gross profit/ Gross loss/)  तथा लाभ हानि खाता (Profit and loss Account) शुद्ध लाभ या हानि (Net profit/Net loss) प्रकट करता है

2.वित्तीय स्थिति ज्ञात करना   किसी एक निश्चित तिथि को व्यवसाय की वित्तीय स्थिति प्रकट करना अन्तिम खातों का दुसरा प्रमुख उद्देश्य है इस हेतु चिट्ठा (Balance sheet) तैयार करके यह ज्ञात किया जाता है कि व्यापार में कौन कौन सी सम्पत्तिया कितने मुरली की लगी हुई है दायित्व (Liabilities) की स्थिति क्या है तथा व्यवसाय में कुल कितनी पूंजी किस रूप में लगी हुई है अंतिम खाते के उपरोक्त दो प्रमुख उद्देश्य है परंतु वित्तीय विवरण निम्न उद्देश्यों की भी पूर्ति करते हैं

1.सीमित अधिकार वाले उपयोगकर्ताओं को सूचनादेना 
वित्तीय विवरणों का उद्देश्य प्रमुख रूप से उन  उपयोगकर्ताओं की आवश्यकता को पूरा करना है जिनके पास सूचना प्राप्त करने का सीमित अधिकार योगिता तथा सीमित साधन है इन व्यक्तियों के लिए सूचना बैंक केे रू में वित्तीय विवरण कार्य करता है


2.व्यावसायिक पूर्वानुमान  वित्तीय विवरण व्यावसायिक लेन देनो की तथ्यपूर्ण जानकारी देता है जिससे कि पूर्वानुमान का कार्य सरलता से हो सकता है
                                       
https://www.vikramsaroj.com/2019/03/what-is-final-account-and-how-it-is.html
3.रोकड प्रवाह का ज्ञान  विनियोजको एवं लेनदारों के लिए रोकड प्रवाह का भावी अनुमान तुलना एवं मुल्याकन वित्तीय विवरणों द्वारा हों सकता है

4.प्रबंधकीय योग्यता का मूल्यांकन  संस्था के साधनों का कितना प्रभावपूर्ण उपयोग प्रबंधक कर पा रहे हैं का मूल्यांकन वित्तीय विवरणोंं के आधार पर किया जाता है








Previous
Next Post »

IGNU QUESTION PAPER BUSINESS ORGANIZATION Your Way To Success

No.of Printed Pages :4.          [ECO-001]                   Bachelors Degree Programme                        December ,2016 ...