रिसर्च का दावा 93 प्रतिशत पोर्न वेबसाइट्स लीक कर रही हैं यूजर्स का डाटा

रिसर्च का दवा 93% पोर्न साइड्स लिक कर रही है यूजर्स का डाटा 
                                             

रिसर्च का दावा 93 प्रतिशत पोर्न वेबसाइट्स लीक कर रही हैं यूजर्स का डाटा

गैजेट डेस्क अगर आप ऑनलाइन पोर्न देखते हैं तो ये खबर आपके साथ जुड़ी हुई है दुनिया भर में करोड़ों लोग पोर्न देखते हैं या सोचते हैं कि उन्हें कोई देख नहीं रहा लेकिन असल में यह गलत है जानकर हैरानी होगी कि ज्यादातर पोर्न साइट वीडियो देखते समय आप की जानकारी को लीक कर रही है वहीं यूजर की एक्टिविटी को ट्रेक किया जाता है जिससे यूजर की गोपनीयता को खतरा पैदा हो गया है पोर्न वेबसाइट पर गहन रिसर्च की गई है उसके बाद रिसर्चर्स को हैरान कर देने वाले प्रणाम हाथ लगे हैं इस स्टडी में दुनिया भर की 22484 एडल्ट कंटेंट वाली वेबसाइट को स्कैन किया गया है जिनमें से 93% वेबसाइट यूजर का डाटा थर्ड पार्टी कंपनियों को लिक कर रही है



         ट्रैकिंग में सबसे आगे गूगल और ऑरीकल

रिपोर्ट: में बताया गया है कि गूगल और उसकी सहायक कंपनियां 74% पॉर्न वेबसाइट को  ट्रैक कर थी इसके अलावा सॉफ्टवेयर डिवैलपर कंपनी ऑरीकल को भी 24% पोर्न साइट्स को ट्रैक करते हुए पाया गया है
                                     
रिसर्च का दावा 93 प्रतिशत पोर्न वेबसाइट्स लीक कर रही हैं यूजर्स का डाटा
दुनिया भर मैं लोगों का लोकप्रिय सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक भी पोर्न वेबसाइट को ट्रैक करने में पीछे नहीं है रिसर्चर्स ने बताया है कि हर 10 वेबसाइट्स में से एक पोर्न साइट को फेसबुक भी ट्रैक कर रही है 


      गूगल वा फेसबुक ने किया ट्रैकिंग करने से इनकार 

गूगल की एक प्रवक्ता ने न्यूयॉर्क टाइम्स को अपने बयान में कहा है कि हम यूजर की ऑनलाइन एक्टिविटी के आधार पर एडवरटाइजिंग प्रोफाइल डिवेलप करने की बात पर यकीन नहीं रखते हैं किसी भी एडल्ट कंटेंट वाली वेबसाइट पर हम गूगल एडल्ट दिखाने के सख्त खिलाफ है वही फेसबुक ने इसी तरह का जवाब दिया है फेसबुक ने कहा है कि बिजनेस के लिए अडल्ट वैैैाइट बस ट्रैक करने की अनुमति फेसबुक अपने कर्मचारी को नहीं देती है 


रिसर्च का कहना है कि हो सकता है कि गूगल और फेसबुक पोर्नोग्राफी वेबसाइट से इकट्ठा किए गए यूजर के डाटा का इस्तेमाल अपने एडवरटाइजिंग प्रोफाइल डिवेलप करने के लिए करती हो लेकिन या एक अनुमान है 
                                   
रिसर्च का दावा 93 प्रतिशत पोर्न वेबसाइट्स लीक कर रही हैं यूजर्स का डाटा
    

आपको बता दें कि ऑनलाइन ट्रैकिंग में उन यूजर्स को ट्रैक किया जाता है जो हर रोज एक ही पोर्न वेबसाइट को ओपन करते हैं बार-बार एक ही वेबसाइट ओपन करने पर वैबसाइट छोटी टैक्स्ट फाइल या कुकीज आपके स्मार्टफोन में डाउनलोड कर देती है और इसके बारे में आपको कुछ पता नहीं चलता इसके जरिए ट्रैकिंग आसान हो जाती है और यूजर किसी भी साइट पर जाता है तो उसका पता लगाया जा सकता है इसी इकट्ठा किए डाटा के आधार पर कम्पनियां आपको रूचि के हिसाब से विज्ञापन दिखाती है


प्राइवेसी पॉलिसी के बिना काम कर रही हैं पोर्न वेबसाइट


सबसे हैरान कर देने वाली बात तो यह है कि दुनिया भर में सिर्फ 17% पोर्न वेबसाइट्स ऐसी है जो प्राइवेसी पॉलिसी को फॉलो करती है वहीं अन्य वेबसाइट पर जो प्राइवेसी पॉलिसी लिखी भी हुई है उसे समझना लगभग नामुमकिन है इस स्टडी में हम भूमिका निभाने वाली ऐलेना मैरिस जोकि माइक्रोसॉफ्ट की एक रिसर्च में भी बताया है न्यूयॉर्क टाइम्स को बताया है की जिस तरह पोर्न वेबसाइट यूजर को ट्रैक कर रही है उससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि यूजर्स की प्राइवेसी को कितना खतरा है उन्होंने बताया कि पोर्न देखना काफी नीचे एक्टिविटी है इसे ट्रैक करना कभी भी सही साबित नहीं हो सकता है पोर्न साइट पर जाने वाले व्यक्ति को या हरगिज नहीं पता होता है कि उसे टैक्नोलॉजी कम्पनियां भी ट्रैक कर रही हैं 

Previous
Next Post »

The biggest disclosure of the Income Tax Department,

The biggest disclosure of the Income Tax Department The biggest disclosure of the Income Tax Department, the salary of 9 people in the co...